गुरुवार, 4 फ़रवरी 2021

बसंत पंचमी सरस्वती पूजा

                                        
Saraswati Pooja
माँ सरस्वती


बसंत पंचमी मंगलवार 16 फरवरी 2021 

मंगलवार 16 फरवरी 2021


इस बार यह त्योहार 16 फरवरी 2021 मंगलवार को है।

इस त्योहार को देवता और मानव सब हर्ष और उल्लास के साथ मनाते है।  एक पोराणिक कथा के अनुसार जब ब्रह्मा ने इस संसार की रचना रची और अपने करमंडल से जल छिड़का  तो माँ सरस्वती प्रकट हुई, माँ के हाथो में वीणा, पुस्तक, माला और हाथ वरदान के मुद्रा में सजे हुए थे। माँ ने जब अपने सुन्दर हाथो से वीणा के तारो छेड़ा तो इस संसार में स्वर के उतपत्ति हुई। इसलिए माँ का नाम सरस्वती पड़ा।  यह दिन वसंत पंचमी का दिन था, तभी से इस संसार में माता सरस्वती के पूजा होती है। 

यह दिन बसंत पंचमी के नाम से भी मनाया जाता है  यह हिन्दुओ का बहुत महत्वपूर्ण त्योहार है। माँ सरस्वती की, पूजा का यह त्योहार हिन्दू पंचांग के अनुसार, माघ माह में शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाया जाता है।  इस दिन माँ सरस्वती की पूजा करने से विद्या और बुद्धि का पूर्ण आशीर्वाद मिलता है।  इस दिन किसी भी नए काम को करने के लिए शुभ माना जाता है। 

विद्यार्थी इस त्योहार को बड़ी ही उत्सुकता के साथ मनाते हैं।  

बहुत से स्कूलों में इस दिन माँ सरस्वती की पूजा होती हैं, और बच्चे रंगा रंग प्रोग्राम प्रस्तुत करते हैं, और माँ सरवती को प्रसन्न कर के, माँ सरस्वती का आशीर्वाद लेते हैं।

माँ सरस्वती को पीले फूल बहुत पसंद हैं, हम सब को पीले पूल माँ को अर्पण कर माँ सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त करना चाहिए।

इस दिन पीले कपडे पहने जाते हैं। पीले फूल, पीली मिठाई, हल्दी का तिलक लगाया जाता है। 

माँ सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए वाद्य यन्त्र, किताबे, कलम दवात, माँ के समक्ष रख कर, पूजा कर आशीर्वाद प्राप्त करना चाहिए। 

इस बार यह त्योहार 16 फरवरी 2021 मंगलवार को है।


 

 





0 Comments:

टिप्पणी पोस्ट करें